Latest Posts

पहेलियां..

कुंड़ुख़ भाषा में पहेलियों का प्रयोग बखुबी होता है। बच्चों के लिए यह बौदि्धक एवं भाषा विकास का एक अनोखा तरीका है जिसे स…

कुड़ुख मुहावरे

कुंड़ुख़ भाषा में मुहावरा एवं कहावत का प्रयोग बखुबी होता है। कई असहज बातों को इससे आसानी से समझा जाता है। आइये इसे जाने…

Notifications

झारखण्ड अलग प्रांत आन्दोलन के दौरान छात्र नेताओं एवं शिक्षाविदों के बीच झारखण्ड की भाषा–संस्कृति को बचाये रखने के विष…

Kurukh 8th Language in W Bengal

It was the initiative of the Honorable CM of West Bengal, Mamata Banerjee that Kurukh language was declared on 21st F…

Jharkhand Govt Notices

ज्ञात हो कि तोलोङ सिकि अथवा तोलोंग लिपि को कुँड़ुख (उराँव) समाज ने कुँड़ुख़ भाषा की लिपि के रूप में स्वीकार किया है। इस…

लिपि चिन्‍ह

‘‘ब्रह्माण्ड में पृथ्वी कृत्रिम घड़ी की विपरीत दिशा Anticlockwise में सूर्य की परिक्रमा करती है। जिसके चलते सभी प्राकृ…

आस्‍था

दिनांक 06.01.2011 को एक हिन्दी दैनिक में खबर छपी - ‘‘आदिवासी ही देश के असली नागरिक हैं।’’ खबर पढ़कर मन को सांतावना मिल

वर्णमाला

कहा जाता है - ‘‘ आवश्‍यकता आविष्कार की जननी है।’’ इस कहावत को एक बार फिर डा नारायण उराँव ‘‘सैन्दा’’ ने चरितार्थ किया…

@KurukhTimes.com

क्‍या हेमन्‍त सरकार आदिवासी भाषाओं की विरोधी है?

2 days 14 hours ago
क्‍या हेमन्‍त सरकार आदिवासी भाषाओं की विरोधी है? admin Sun, 01/23/2022 - 22:33

क्‍या झारखंड की हेमन्‍त सरकार आदिवासियों की भाषाओं के प्रति बिल्‍कुल लापरवाह है? यह धारणा एक स्‍थानीय अबखबार में छपी खबर से उभर रही है। दिनांक 23.01.2022 दिन रविवार को स्थानीय अखबार में छपी खबर के हवाले से कहा गया है कि झारखण्ड सरकार उत्क्रमित उच्च विद्यालय में 2079 शिक्षकों की बहाली करने जा रही है। 
इन विद्यालयों में भाषा विषय के कुल 567 पद हैं। इनमें से प्रत्येक विद्याालय में भाषा विषय के 3 शिक्षक होंगे। पूर्व में प्रत्येक उच्च विद्यालय में भाषा विषय के 4 शिक्षक होते थे जिसमें 

admin

धुमकुड़िया कोरना अरा पूरना उल्ला (धुमकुड़िया प्रवेश तथा पूर्णता दिवस)

1 week 2 days ago
धुमकुड़िया कोरना अरा पूरना उल्ला (धुमकुड़िया प्रवेश तथा पूर्णता दिवस)

बअ़नर माघ चन्ददो नु ख़द्दारिन धुमकुड़िया मंक्खा लगियर अरा ख़द्दर माघ चन्द्दो नु धुमकुड़िया कोरआ लगियर। एन्नेम माघ पुनई 
गेम जोंख़ रअ़उर गही माघ पूरआ लगिया दरा पुना अड्डा नु मलता पुना चान नु माघ पुनई ख़ोःख़ा ती जोंख़ रअ़ना ओरे मना लगिया।

admin

बेंगलुरू से छ़ुुड़ा ली गई झारखंड की बंधक बेटियां

1 week 5 days ago
बेंगलुरू से छ़ुुड़ा ली गई झारखंड की बंधक बेटियां admin Thu, 01/13/2022 - 20:40

मुसाबनी की हुनरमंद अंजली पान अब खुश है। उसकी घर वापसी सुनिश्चित हो गई है। कुछ घंटों में वह अपने परिवार से मिल सकेगी। झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार ने उसे बेंगलुरू से सुरक्षित मुक्त करा लिया है। अंजली पान जैसी ही पोटका प्रखंड की अन्य छह युवतियां अपने घर लौट रही हैं। ये हुनरमंद बेटियां बताती हैं कि उन पर काफी जुल्म ढाये गये। उन्हें बंधक बनाकर रखा गया। न ढंग से रहने की सुविधा दी गयी, न खाने की व्यवस्था।

admin

खूंटी में डायन बता दंपति की हत्‍या

2 weeks ago
खूंटी में डायन बता दंपति की हत्‍या admin Wed, 01/12/2022 - 10:57

अड़की थाना क्षेत्र स्थित तिरला गांव में डायन-बिसाही के शक में रिश्तेदार ने साथियों के साथ मलगू हस्सा पूर्ति (50) और उसकी पत्नी बानू नाग (45) की हत्या कर दी. घटना पांच जनवरी रात की है. पुलिस ने सोमवार की शाम में दंपती के शव बरामद किया. मंगलवार को पोस्टमार्टम के बाद शवों को परिजनों को सौंप दिया गया.

admin

एएफसी महिला फुटबॉल के लिए चुनी गई गुमला की सुमति, मुख्‍यमंत्री ने दी बधाई

2 weeks ago
एएफसी महिला फुटबॉल के लिए चुनी गई गुमला की सुमति, मुख्‍यमंत्री ने दी बधाई admin Wed, 01/12/2022 - 10:24

इसी महीने शुरू हो रहे एएफसी महिला एशिया कप के लिए गुमला (झारखंड) के सुदूर इलाके भरनो प्रखंड के लोंडरा गांव की निवासी सुमति कुमारी का चयन हो गया है।  पिछले महीने कोच्चि में कैंप में शामिल 27 खिलाड़ियों में से 23 सदस्यों को टीम में चुना गया है। एएफसी महिला एशिया कप 20 जनवरी से छह फरवरी तक महाराष्ट्र के तीन स्थानों पर होगा। फॉरवर्ड पोजिशन से खेलनेवाली सुमति पिछले महीने ढाका में आयोजित अंडर-19 सैफ चैंपियनशिप में उपविजेता भारतीय टीम में शामिल थीं। इसके अलावा सुमति पिछले साल मार्च-अप्रैल में उज्बेकिस्तान में हुए फ्रेंडली फुटबॉल मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं।

admin

नया वर्ष खुशियां लेकर आया झारखंड हॉकी के लिए

2 weeks 1 day ago
नया वर्ष खुशियां लेकर आया झारखंड हॉकी के लिए admin Mon, 01/10/2022 - 20:53

झारखंड के हॉकी खेल जगत के लिए नया साल खुशियां लेकर आया है। राज्‍य की छह खिलाडि़यों का चयन जूनियन इंडिया कैंप के लिये किया गया है। चयनित खिलाडि़यों में प्रमोदनी लकड़ा, रजनी केरेकेट्टा, महिमा टेटे, दीपिका सोरेंग, काजल बाड़ा और ब्‍यूटी डुंगडुंग शामिल हैं। सभी खिलाड़ी सिमडेगा जिले की सुदुरवर्ती गांवों की हैं। प्रमोदनी ठेठईटांगर प्रखंड के कोरोमिया गांव की, रजनी इसी प्रखंड के पाइकपारा गांव की, महिमा आंलिंपियन सलीमा टेटे की छोटी बहन हैं, और बाकी तीन खिलाड़ी दीपिका, काजल और ब्‍युटी केरसई प्रखंड की रहनेवाली है। सभी खिलाडियों के चयन पर ढ़ेर सारी बधाई। 

admin

संताली आदिवासियों का पर्व सोहराय व वंदना : तैयारी शुरू

2 weeks 1 day ago
संताली आदिवासियों का पर्व सोहराय व वंदना : तैयारी शुरू admin Mon, 01/10/2022 - 19:55

संताल परगना इलाके में सोहराय और वंदना की तैयारी को लेकर आदिवासी समुदाय जुट गये हैं। देवघर जिला अंतर्गत मधुपुर प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न आदिवासी गांवों में इसकी तैयारी जोरों पर है। सोहराय और वंदना को लेकर महिलाएं अपने-अपने घरों को आकर्षक रंग-रोगन के साथ साफ-सफाई में जुट गये हैं।

यह पर्व हर साल आदिवासी समुदाय के लोगों द्वारा जाहेरथान में पूजा-अर्चना कर किया जाता है। दूसरे दिन बरद खूटा पूजा किया जाता है। तीसरे दिन खूटे गये बैल को ढोल-नगाड़े के साथ पूजा-अर्चना के बाद खोला जाता है। इसके बाद पारंपरिक नृत्य आदिवासी परिधान और मांदर की थाप पर नृत्य किया जाता है।

admin

कुंड़ुख़ भाषा व तोलोंग लिपि के विकास हेतु राजी पडहा प्रार्थना सभा एवं अद्दी पड़हा अखड़ा‚ दो संगठन एकमत हुए

4 weeks 1 day ago
कुंड़ुख़ भाषा व तोलोंग लिपि के विकास हेतु राजी पडहा प्रार्थना सभा एवं अद्दी पड़हा अखड़ा‚ दो संगठन एकमत हुए admin Tue, 12/28/2021 - 10:03

दिनांक 26.12.2021 दिन रविवार को राजी पडहा सरना प्रार्थना सभा, मुडमा, रांची की केन्द्रीय कमिटि की बैठक हुई। इस बैठक में झारखण्डा सहित प0 बंगाल ओडिसा‚ छत्ती सगढ़ आदि राज्योंब के प्र‍‍तिनिधि भी उपस्थित थे। बैठक की अध्याक्षता राजी पडहा सरना प्रार्थना सभा ट्रस्टक, मुड़मा के माननीय अध्याक्ष एवं धर्मगुरू श्री बन्ध न तिग्गा  जी के दवारा सम्प न्नट हुआ। अपने समाज में धार्मिक शिक्षा तथा आत्मन बोध की शिक्षा सभी व्येक्ति को आवश्य्क है जिसके लिए विभिन्नत क्षेत्रों से आये प्रतिनिधियों को राज्यि स्तपरीय तथा पड़हा स्तमरीय कार्यों की जिम्मेादारियां सौंपी गईं। बैठक में सर्व सहमति से निर्णय लिया गया कि – संगठन को

admin