Aggregator

त्रिपुरा में प्रथम आदिवासी महासभा का सम्मेलन संपन्न

3 days 8 hours ago
त्रिपुरा में प्रथम आदिवासी महासभा का सम्मेलन संपन्न admin Tue, 11/30/2021 - 18:08

दिनांक 28.11.2021 दिन रविवार को त्रिपुरा (भारत) में निवास करने वाले उरांव, मुण्डा, संताल आदि बहुत से आदिवासी छात्रों द्वारा प्रथम आदिवासी महासभा का सम्मेलन किया गया। इस सम्मेालन में भारत सरकार के कैबिनेट मंत्री आदिवासी कार्य मंत्रालय अर्जून मुण्डा, पूर्व कुलपति (डी.एस.पी. मुखर्जी विश्वीविदयालय, रांची) डॉ. सत्य  नारायण मुण्डा, त्रि‍पुरा के आदिवासी कल्याथण मंत्री तथा माननीय विधायक गण एवं अनेक प्रबुद्ध समाजसेवी उपस्थित थे। 

admin

'विहिप का बयान अमर्यादित एवं मानसिक शोषण का प्रतीक'

4 days 5 hours ago
'विहिप का बयान अमर्यादित एवं मानसिक शोषण का प्रतीक' admin Mon, 11/29/2021 - 21:31

दिनांक 19.11.2021 को विश्व हिन्दु परिषद के प्रांत मंत्री डॉ.

admin

हिंदू धर्म के 16 संस्‍कारों की परंपरा का पालन आदिवासी भी करते हैं फिर सरना धर्म कोड क्‍यों?

1 week ago
हिंदू धर्म के 16 संस्‍कारों की परंपरा का पालन आदिवासी भी करते हैं फिर सरना धर्म कोड क्‍यों?

रांची: आदिवासी नेता डॉ करमा उरावं के बयान पर हमलावर विश्‍व हिंदू परिषद (विहिप) व सहयोगी संस्‍थाओं ने सरना धर्म कोड की मांग के खिलाफ मोर्चा खोला है। उनका कहना है कि आदिवासी या जनजातीय समाज को अलग धर्म कोड की कोई आवश्‍यक्‍ता ही नहीं। वे तो हिंदू हैं। 'सरना' केवल पूजा स्‍थल को कहा जाता है, धर्म कैसे हो सकता है?

admin

झारखण्ड में नई शिक्षा नीति और कुंड़ुख़ भाषा-लिपि की सार्थकता विषयक गोष्ठी

1 week 3 days ago
झारखण्ड में नई शिक्षा नीति और कुंड़ुख़ भाषा-लिपि की सार्थकता विषयक गोष्ठी

दिनांक 21.11.2021 दिन रविवार को अद्दी कुंड़ुख़ चाला धुमकुड़िया पड़हा अखड़ा (अद्दी अखड़ा), रांची (झारखण्ड) के अध्यक्ष जिता उरांव एवं सचिव  राजेन्द्र भगत की मुलाकात राजी पड़हा प्रार्थना सभा ट्रस्ट, मुड़मा, रांची के अध्यक्ष  बंधन तिग्गा से हुई। इस अवसर पर राउरकेला (ओड़िशा) से  मनीलाल केरकेट्टा एवं जामताड़ा (झारखण्ड) से  संजय पहान एवं उनके साथी भी उपस्थित थे।

admin

कुँड़ुख़ तोलोंग सिकि (लिपि) पर उठते सवाल : एक परिचर्चा

2 weeks ago
कुँड़ुख़ तोलोंग सिकि (लिपि) पर उठते सवाल : एक परिचर्चा

जैसा कि हम सभी को जानते हैं कि – कुँड़ुख़ भाषा की लिपि, तोलोंग सिकि है। झारखण्ड सरकार द्वारा इस लिपि को वर्ष 2003 में कुंड़ुख़ भाषा की लिपि स्वीकार करते हुए केन्द्र सरकार को अनुसंशित किया गया है। साथ ही प.

admin

टाटा द्वारा संचालित कुंड़ुख भाषा की कक्षाएं | Classes of Kunrukh language by Tata Steel

2 weeks 1 day ago
टाटा द्वारा संचालित कुंड़ुख भाषा की कक्षाएं | Classes of Kunrukh language by Tata Steel

टाटा स्टील फाउण्डेलशन‚ जमशेदपुर के सहयोग से कुंड़ुख़ भाषा शिक्षण कार्य : भाषा बचाने की दिशा में स्वागत योग्य कदम || टाटा स्टील फाउण्डेशन‚ जमशेदपुर के सहयोग से आदिवासी उरांव समाज समिति‚ बिरसा नगर‚ जमशेदपुर में कुंड़ुख़ भाषा शिक्षण कार्य किया जा रहा है। इस कार्य का शुभारंभ दिनांक 26.08.2021 को हुआ। यह भाषा शिक्षण कार्य शनिवार को 5 से 7 बजे संध्या तथा रविवार को 10 बजे से दोपहर 1 बजे तक एवं बुधवार को 5 से 7 बजे संध्या संचालित किया जाता है। भाषा शिक्षण के इस कार्य में केजी से पीजी तक के छात्र शामिल होते हैं। लौह नगरी जमशेदपुर जैसे औद्योगिक शहर में उरांव लोगों की कुडुख भाषा बची हुई है तथा इसे बचाते ह

admin

डॉ नारायण उरावं को सम्‍मानित किया झारखंड सरकार ने

2 weeks 4 days ago
डॉ नारायण उरावं को सम्‍मानित किया झारखंड सरकार ने

झारखंडी साहित्‍य एवं संस्‍कृति की उपादेयता तथा राष्‍ट्र के विकास में योगदान विषयक दो दिवसीय संगोष्‍ठी सह सांस्‍कृतिक कार्यक्रम के प्रथम दिवस दिनांक 14 नवंबर 2021 को डॉ नारायण उरावं का संबोधन। इस अवसर पर विभाग द्वारा डॉ उरावं को कुरूख भाषा की लिपि तोलोंग सिकि विकसित करने के लिये खास तौर पर सम्‍मानित भी किया गया। 

झारखंड राज्‍य संग्रहालय (पर्यटन कला संस्‍कृति खेलकूद एवं युवा कार्य विभाग झारखंड सरकार द्वारा 14 नवंबर 2021 को आयोजित कार्यक्रम की झलकी.. 

admin

कुँड़ुख़ भाषा अरा तोलोंग सिकि (लिपि)

2 weeks 6 days ago
कुँड़ुख़ भाषा अरा तोलोंग सिकि (लिपि)

1 कुँड़ुख भाषा - कुँड़ुख भाषा एक उतरी द्रविड़ भाषा परिवार की भाषा है। लिंगविस्टक सर्वे ऑफ इंडिया 2011 के रिपोर्ट के अनुसार भारत देश में कुँड़ुख़ भाषा बोलने वाले लोगों की संख्या 19‚88‚350 है। पर कुँड़ुख भाषी उराँव लोग अपनी जनसंख्या के बारे में बतलाते हैं कि पुरे विश्व में कुँड़ुख भाषी उराँव लोग 50 लाख के लगभग हैं। झारखण्ड में इस भाषा की पढ़ाई विश्वविद्यालयों में हो रही है। भारत में उरांव लोग झारखण्ड‚ बिहार‚ छत्तीसगढ़‚ ओड़िसा‚ प0 बंगाल‚ असम‚ त्रिपुरा‚ अरूणांचल प्रदेश‚ उत्तर प्रदेश‚ मध्य प्रदेश‚ हिमाचल प्रदेश‚ महाराष्ट्र तथा विदेशों में से नेपाल‚ बंगलादेश आदि क्षेत्र में है। 

admin

धुमकुड़िया सोहरई जतरा‚ सैन्दा‚ सिसई‚ गुमला में सम्पन्न

3 weeks 3 days ago
धुमकुड़िया सोहरई जतरा‚ सैन्दा‚ सिसई‚ गुमला में सम्पन्न

दिनांक 06.11.2021 दिन शनिवार को धुमकुड़िया सोहरई जतरा‚ थाना सिसई जिला गुमला के सैन्दा के ‘पड़हा पिण्डा’ स्थल पर सम्पन्न हुआ। यह आयोजन परम्परागत ‘सोहरई टहड़ी मण्डी’ के अवसर पर कुड़ुख़ भाषायी विद्यालय के छात्र-छात्राओं के साथ गांव समाज के लोगों द्वारा मनाया जाता है। विदित है कि परम्परागत कुंड़ुख़ समाज में पड़हा‚ धुमकुडिया‚ अखड़ा आदि उनकी अपनी पुस्तैनी धरोहर है। जिसे समझने तथा समझाने के उदेश्य से यह आयोजन छात्र-छात्राओं एवं गांव समाज के लोगों के साथ वर्तमान समय के अनुकूल वर्ष 2012 से ही मनाया जा रहा है।

admin

संविधान प्रदत्‍त पारंपरिक स्‍वशासन व्‍यवस्‍था लागू करने के लिए संघर्ष करेंगे आदिवासी

3 weeks 3 days ago
संविधान प्रदत्‍त पारंपरिक स्‍वशासन व्‍यवस्‍था लागू करने के लिए संघर्ष करेंगे आदिवासी

दिनांक 07/11/2021 दिन रविवार को जिला रांची के बेड़ो प्रखण्ड क्षेत्र के ग्राम बारिडीह के  पड़हा भवन प्रांगण में 5वी अनुसूची के अंतर्गत परम्पारिक रुढ़ीप्रथा स्वशासन व्‍यवस्था' को चलाने संबंधी नियमों का प्रस्ताव पारित कर झारखंड के राज्यपाल को दी जाने वाले विषयों को लिखित रुप पर चर्चा किया गया। जिसमें राजी बेल श्रीमान बागी लकड़ा, राजी पड़हा, भारत अपने पड़हा की ओर से लिखित रुप में बैठक को प्रस्तावना दिया। 

admin

‘उरांव लोक साहित्य’ और ‘पुरखर गही खीरी’ पुस्‍तकों का विमोचन संपन्‍न

3 weeks 5 days ago
‘उरांव लोक साहित्य’ और ‘पुरखर गही खीरी’ पुस्‍तकों का विमोचन संपन्‍न

दिनांक 7 नवंबर 2021 को कुरुख (उरांव) साहित्य अकादमी‚ रांची के तत्वाधान में आदिवासी कॉलेज छात्रावास करम टोली‚ रांची के पुस्तकालय भवन में डॉ. तेतरू उरांव द्वारा लिखित ‘उरांव लोक साहित्य’ तथा डॉ. मासातो कोबायशी (टोक्यो युनिवर्सिटी, जापान) एवं डॉ.

admin

कुडुख़ भाषा‚ संस्कृति एवं सिकि के संरक्षण हेतु प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न

1 month ago
कुडुख़ भाषा‚ संस्कृति एवं सिकि के संरक्षण हेतु प्रशिक्षण शिविर सम्पन्न

भण्डारा : सात पड़हा कुडुख़ विद्यालय‚ पलमी‚ भण्डारा‚ लोहरदगा में दिनांक 30/10/2021 दिन शनिवार को श्री शनिचरवा उरांव सात पड़हा पलमी के देवान की अध्यक्षता में कुडुख़ भाषा संस्कृति, तोलोंग सिकि के विकास, संरक्षण एवं सात पड़हा कुडुख़ विद्यालय‚ पलमी को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए तथा समाज के सर्वांगीण विकास के लिए एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में कुडुख़ भाषा संस्कृति एवं तोलोंग सिकि के विकास एवं संरक्षण के लिए गाँव में धुमकुड़िया को फिर से संचालित करने के लिए गहन विचार विमर्श हुआ| शनिचरवा उरांव ने कहा कि धुमकुड़िया को फिर से जगाने के लिए गाँव के सभ

admin

कुँडुख़ भाषा एवं सांस्कृतिक पुनरूत्थान केन्द्र (गुमला) का उद्घाटन 

1 month ago
कुँडुख़ भाषा एवं सांस्कृतिक पुनरूत्थान केन्द्र (गुमला) का उद्घाटन  admin Tue, 11/02/2021 - 09:47

दिनांक 30 अक्टूबर 2021 दिन शनिवार को कुँडुख़ भाषा एवं  सांस्कृतिक पुनरूत्थान केन्द्र्‚ बम्हनी,  गुमला का उद्घाटन समारोह संपन्न हुआ। इस समारोह में मुख्य अतिथि‍ के रूप में डॉ रामेश्वर उरांव (माननीय मंत्री वित्त‚ योजना एवं विकास‚ वाणिज्य कर‚ खाद्य सार्वजिनक वितरण और उपभोक्ता मामले‚ झारखंड सरकार)‚ विशिष्ट  अतिथि श्री सुदर्शन भगत (माननीय सांसद लोहरदगा लोकसभा) तथा गुमला जिला के उपायुक्तय श्री सुधीर कुमार श्रीवास्तव एवं डॉ एहतेशाम वकारब (पुलिस अधीक्षक गुमला) उपस्थित थे।  कार्यक्रम में अतिथियों को पहाड़ पनारी टांगर टोली एवं टोटो हाई स्कूल‚ गुमला के बच्चियों द्वारा पईरछन करते हु ए उद्घाटन स्थयल तक लाय

admin

क्‍यों विलुप्‍त हो रही आदिवासियों की भाषा-संस्‍कृति?

1 month ago
क्‍यों विलुप्‍त हो रही आदिवासियों की भाषा-संस्‍कृति?

क्‍यों विलुप्‍त हो रही आदिवासियों की भाषा-संस्‍कृति?

अधिवक्‍ता निकोलस बारला और पत्रकार किसलय की बातचीत..

admin

'वैश्विक औद्योगिकरण से आदिवासियों-मूलवासियों की भाषा-संस्कृति का क्षरण हुआ है'

1 month ago
'वैश्विक औद्योगिकरण से आदिवासियों-मूलवासियों की भाषा-संस्कृति का क्षरण हुआ है'

दिनांक 26.10.2021 दिन मंगलवार को ग्रामगुरू रांची के सभागार डॉ. कामिल बुल्के पथ (पुरूलिया रोड रांची) में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अन्तर्गत झारखण्ड की नई शिक्षा नीति के विषय पर एक विचार गोष्ठी सम्पन्न हुई। इस विचार गोष्ठी में झारखण्ड क्रिसचियन्स माइनोरिटी एजूकेशन एसोशिएशन के माननीय अध्यक्ष‚ बिशप भिन्सेन्ट बरवा (सिमडेगा धर्मप्रांत‚ झारखण्ड)‚ महासचिव फा. एरेनियुस मिंज‚ माननीय सदस्य श्री शाण्डिल जी‚ सिस्टर सेलिन बड़ा (प्रधानाध्यापिका संत अन्ना‚ रांची)‚ सी.बी.सी.आई नई दिल्ली के सदस्य फादर डा. निकोलस बरला एवं अखिल भारतीय कुंड़ुख़ कत्थ तोलोंग सिकि प्रचारिणी सभा के अध्यक्ष फा.

admin

रू‍ढ़ि‍गत पारंपरिक सामाजिक एवं न्यांयिक संगठन‚ राजी पड़हा की राज्‍य इकाई ‘पादा पड़हा छत्तीसगढ़’ का पुनर्गठन

1 month 1 week ago
रू‍ढ़ि‍गत पारंपरिक सामाजिक एवं न्यांयिक संगठन‚ राजी पड़हा की राज्‍य इकाई ‘पादा पड़हा छत्तीसगढ़’ का पुनर्गठन

राजी पड़हा, भारत के तत्वाधान में बलरामपुर जिला के स्थान नई रोहतासगढ़ वीर भूमि सरना शक्ति पाठ परसापानी में ‘पादा पड़हा छत्तीसगढ़’ का पुनर्गठन दिनांक 10.10.2021 दिन रविवार को राजी बेल श्री बागी लकड़ा की अध्यक्षता में सम्पन्नि हुआ। इस बैठक में पड़हा संविधान के अनुसार राजी दीवान श्री फौदा उरांव के द्वारा निम्नलिखित व्यक्तियों को मनोनयन किया गया जो निम्न प्रकार है –

admin

रू‍ढ़ि‍गत परम्पारिक सामाजिक एवं न्यायिक संगठन‚ राजी पड़हा की राज्‍य इकाई ‘पादा पड़हा झारखंड’ का पुनर्गठन

1 month 1 week ago
रू‍ढ़ि‍गत परम्पारिक सामाजिक एवं न्यायिक संगठन‚ राजी पड़हा की राज्‍य इकाई ‘पादा पड़हा झारखंड’ का पुनर्गठन admin Thu, 10/21/2021 - 09:51

गुमला जिला सिसई प्रखंड ग्राम पहान कामता में ‘राजी पड़हा भारत’ के राजी देवान श्रीमान फौदा उरांव की अध्यक्षता में दिनांक 12 अक्टुवर 2021, दिन मंगलवार को कामता स्कूल मैदान में बैठक किया गया। इस बैठक में मुख्य अतिथी राजी बेल श्रीमान बागी लकड़ा राजी पड़हा, भारत के बीच झारखंड राज्यर कमिटी का पुनर्गठन किया गया जिसका नाम पादा पड़हा‚ झारखण्डम है। इस कमिटी का पुनर्गठन‚ पड़हा संबिधान के नियमानुसार मनोनित किया गया। कमिटि में निम्नलिखित व्यिक्तियों को मनोनित किया गया तथा सामाजिक कार्यों की जिम्मे दारी दी गई –

admin

कुँड़ख़र ही कुड़ा-मोःख़ा सिखिरना अरा सिखाबअ़ना

1 month 2 weeks ago
कुँड़ख़र ही कुड़ा-मोःख़ा सिखिरना अरा सिखाबअ़ना admin Fri, 10/15/2021 - 09:29

kuEzxar hi kuzA mo:xA siKirnA arA siKAbahnA : baHnar – hullo pariyA nu namhay purxar tozaX-parqA arA nAl-JariyA abzA gane raHnum naman baCAbA:car. A bezA nu kanwA-xaVjpA gutTin begar bi:qkam mo:xA lagiyar. ahzan huE xe:nam mo:xA lagiyar. ku:l ge ki:zA laggo wim arA jiyA ge amm onkA laggo wim. avXe ku:l-ki:zA arA amm onkan metAbaHA ge tozaX parqA qA xaVjpan mo:xar warA JariyA qA amman onar bezan Kepcar.

admin